Saturday, May 18, 2024
Homeराज्यस्मार्ट सिटी अवधारणा पर बनेगा " टाऊनशिप": नंद लाल शर्मा

स्मार्ट सिटी अवधारणा पर बनेगा ” टाऊनशिप”: नंद लाल शर्मा

बिहार स्थित 1320 मेगावाट बक्सर ताप विद्युत संयंत्र के "मिनी स्मार्ट टाऊनशिप” की रखी गई आधारशिला

शिमला 23 जुलाई, 2021: एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नंद लाल शर्मा ने बिहार स्थित 1320 मेगावाट के बक्सर ताप विद्युत संयंत्र का दौरा किया  अपने कार्यालयी दौरे के दौरान उन्होंने विद्युत संयंत्र के लिए “मिनी स्मार्ट टाऊनशिप” की आधारशिला रखी।
स्मार्ट सिटी अवधारणा पर बनेेेगा टाऊनशिप: 
इस मौके पर कर्मचारियों को संबोधित करते हुए नंद लाल शर्मा ने कहा कि “मिनी स्मार्ट टाऊनशिप” एसजेवीएन प्रबंधन का अपने कर्मचारियों के हितों के प्रति महत्ता को दर्शाता है। टाऊनशिप में आवासीय भवन, कार्यालय परिसर, अतिथि गृह, खेल परिसर, क्लब, अस्पताल, स्कूल, शॉपिंग कॉम्पलेक्स, ऑडिटोरियम एवं एम्फीथियेटर बनाए जाएंगे। स्मार्ट सिटी अवधारणा पर बनने जा रहे इस टाऊनशिप में ग्रीन बिल्डिंग प्रावधानों को शामिल किया जा रहा है। स्मार्ट सिटी में वर्षा जल संचयन प्रणाली एवं ऊर्जा आवश्यकताओं के लिए सोलर पैनलों की अत्याधुनिक अवधारणाएं होंगी। प्रस्तावित टाऊनशिप में पर्याप्त खुले और हरित मार्गों, पार्को एवं जल निकायों के साथ बहुमंजिला आवासीय इकाईयां भी शामिल होंगी।
समय सीमा से पहले परियोजना को पुुुरा करने के लिए करें प्रयास :
उन्होंने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1320 मेगावाट के बक्सर थर्मल पावर प्लांट की आधारशिला 9 मार्च 2019 को रखी गई थी। शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि केंद्रीय विद्युत और एनआरई मंत्री आर.के.सिंह द्वारा परियोजना प्रगति की निरंतर मॉनीटरिंग की जा रही है। उन्होंने सभी हितधारकों को निर्धारित समय सीमा से पहले परियोजना को कमीशन करने के लिए उत्साहपूर्वक कड़ी मेहनत करने का आह्वान किया।
11.000 करोड़ रुपए का संयंत्र 9828 मिलियन यूनिट विद्युत का करेगा उत्पादन:
उन्होंने कहा कि अल्ट्रा सूपर क्रिटिकल प्रौद्योगिकी के साथ 1320 मेगावाट (2×660 मेगावाट) के बक्सर धर्मल विद्युत संयंत्र को एसजेवीएन थर्मल प्रा. लि. (एसजेवीएन लिमिटेड की एक पूर्ण स्वामित्व वाली अधीनस्थ कंपनी) द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है। संयंत्र में लगभग 11.000 करोड़ रुपए का निवेश शामिल है। कमीशन होने पर संयंत्र 9828 मिलियन यूनिट का विद्युत उत्पादन करेगा। उन्होंने भारत के  प्रधानमंत्री द्वारा निर्धारित 24×7 “पॉवर टू ऑल” के लक्ष्य में योगदान करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि संयंत्र के साथ संबंधित हर व्यक्ति को संयंत्र की प्रथम इकाई की जून, 2023 और द्वितीय इकाई की जनवरी, 2024 तक कमीशनिंग की दिशा में सामंजस्यपूर्ण कार्य करना है।
कर्मचारियों के समर्पित प्रयासों की सराहना:
इसके अलावा, नंद लाल शर्मा ने अन्य निदेशकों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ गतिविधियों की प्रगति की
समीक्षा और संयंत्र के सभी प्रमुख घटकों का निरीक्षण किया। उन्होंने कोविड-19 महामारी के कठिन समय में भी कार्यों की गति को बनाए रखने में जुड़े हुए सभी कर्मचारियों के समर्पित प्रयासों की सराहना की।
ये रहे उपस्थित:
इस अवसर पर निदेशक (कार्मिक) गीता कपूर, निदेशक (वित्त) ए.के.सिंह, निदेशक (विद्युत) सुशील कुमार शर्मा, एसजेवीएन थर्मल प्रो.लिमिटेड (एसटीपीएल) के सीईओ संजीव सूद और एसजेवीएन व एसटीपीएल के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

× How can I help you?