Wednesday, May 22, 2024
Homeखासलोगों के अनुरोध पर केंद्र ने 'खेल रत्न पुरस्कार’ का नाम बदल...

लोगों के अनुरोध पर केंद्र ने ‘खेल रत्न पुरस्कार’ का नाम बदल कर किया ‘मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार’

पीएम ने कहा : जिन्होंने देश के नाम को किया रोशन उनके नाम पर खेल पुरस्कार का नाम रखना उचित,लोगों के भी आ रहे थे अनुरोध

शिमला,6 अगस्त: केंद्र सरकार ने राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार का नाम प्रसिद्ध हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के नाम पर रखने का निर्णय लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि उन्हें देश भर के  लोगों से ‘खेल रत्न पुरस्कार’ का नाम मेजर ध्यानचंद के नाम पर रखने के लिए बहुत सारे अनुरोध प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए ‘खेल रत्न पुरस्कार’ का नाम ‘मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार’ कर दिया गया है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि मेजर ध्यानचंद भारत के उन अग्रणी खिलाड़ियों में से एक थे जिन्होंने भारत के सम्मान और गौरव को नए शिखर पर पहुंचा दिया था। अत: यह बिल्‍कुल उचित है कि हमारे देश का सर्वोच्च खेल सम्मान उन्हीं के नाम पर रखा जाएगा।
प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीटस में कहा:
ओलंपिक खेलों में भारतीय खिलाड़ियों के शानदार प्रयासों से हम सभी अभिभूत हैं। विशेषकर हॉकी में हमारे बेटे-बेटियों ने जो इच्छाशक्ति दिखाई है, जीत के प्रति जो ललक दिखाई है, वो वर्तमान और आने वाली पीढ़ियों के लिए बहुत बड़ी प्रेरणा है।
देश को गर्वित कर देने वाले पलों के बीच अनेक देशवासियों का ये आग्रह भी सामने आया है कि खेल रत्न पुरस्कार का नाम मेजर ध्यानचंद को समर्पित किया जाए। लोगों की भावनाओं को देखते हुए, खेल रत्न पुरस्कार का नाम अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

× How can I help you?