Saturday, September 25, 2021
Home आपका शहर बचपन से ही बच्चों में डालने होंगे संस्कारों के बीज

बचपन से ही बच्चों में डालने होंगे संस्कारों के बीज

काजा में चार दिवसीय शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ

लाहौल-स्पीति,2 जुलाई: काजा उपमंडल में शुक्रवार को चार दिवसीय शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। टोंगलेन व आर्युज्ञान न्यास के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम में 14वें धर्मगुरु दलाई लामा द्वारा निर्देशित नैतिकता और दर्शन को आत्मसात करने के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा। पांच जुलाई तक चलने वाले इस कार्यक्रम में दो सत्रों में 45-45 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जाएगा। यह प्रशिक्षित शिक्षक पांचवी कक्षा तक के बच्चों का आगे मार्गदर्शन करेंगे।

काजा उपमंडल में चार दिवसीय शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन

कार्यक्रम के मुख्यातिथि टीके लोचेन टूल्कू रिनपोंछे ने कहा कि आज बच्चों के व्यवहार में काफी बदलाव आ रहा है। बच्चों को सही शिक्षा और संस्कारों की जरूरत है। उन्होंने कहा कि भावी पीढ़ी को संस्कार व गुणात्मक युक्त शिक्षा प्रदान करना हमारी पीढ़ी का दायित्व बनता है। उन्होंने कहा कि बच्चों को बचपन से ही सही मार्ग पर चलने की शिक्षा देना जरूरी है ताकि  उनका भविष्य उज्जवल हो। हम सभी को इस क्षेत्र में मिलकर काम करना होगा।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लेते शिक्षक

इस अवसर पर एडीएम ज्ञान सागर नेगी ने अपने संबोधन में कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों के माध्यम से शिक्षा के क्षेत्रों में नए आयामों की स्थापना होती है। स्पिति में शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व बदलाव होने से  शिक्षा के क्षेत्र में काफी सुधार हो रहा है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में लगातार और अधिक प्रयासों की आवश्यकता है ताकि बच्चों का भविष्य संवर सके।

 

शिक्षकों को सम्मानित करते मुख्यातिथि

“स्पिति प्रशासन के सौजन्य से स्नो फेस्टिवल पर बनी डॉक्यूमेंट्री को विधिवत रूप से टीके लोचेन टूलकु रिंपोछे ने आधिकारिक रिलीज किया। इसके अलावा कॉफी टेबल बुक भी लांच की गई।”

कार्यक्रम की गतिविधियां:
टीके लोचेन टूल्कू रिनपोंछे कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि मौजूूद रहे। उन्होंने दीप प्रज्वलित करके कार्यक्रम की शुभारंभ किया। उन्हें थंका पेटिंग और शॉल भेंट कर सम्मानित किया गया। छेरिंग पलकित ने मुख्यातिथि का स्वागत किया और कार्यक्रम के बारे संक्षिप्त जानकारी प्रस्तुत की। प्रोग्राम मैनेजर दीपक ने कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी रखी। इसके साथ ही संस्था की विभिन्न गतिविधियों के बारे में बताया। कार्यक्रम के दौरान निदेशक लोवजंग जामयांग,छेरिंग तेजिंन,छेरिंग पालकित, सयैदा सना,दीपक तिवारी,छेवांग दोरजे,संजीवन रॉय को  मुख्यातिथि ने सम्मानित किया। टोंगलेन ट्रस्ट के निदेशक लोवजंग जामयांग ने अपनी संस्था के कार्यो के बारे में प्रशिक्षिण कार्यक्रम के समक्ष रखे। कार्यक्रम में धन्यवाद भाषण एसडीएम जीवन सिंह नेगी ने दिया। साथ ही इस मौके पर खंड चिकित्सा अधिकारी महेंद्र प्रताप सिंह, डीएसपी सुशांत शर्मा, नायब तहसीलदार विद्या सिंह नेगी सहित कई गणमान्य मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पहाड़ी राज्यों के लिए आदर्श राज्य के रूप में उभरा हिमाचल : पीयूष गोयल

  शिमला, 24 सितंबर: केन्द्रीय उपभोक्ता कार्य, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल हिमाचल दौरे पर आज शिमला पहुंचे हैं। आज...

रंग लाए सीएम जयराम के प्रयास, हिमाचल को मिला चिकित्सा उपकरण पार्क

शिमला,24 सितंबर:  केंद्र की मोदी सरकार ने हिमाचल प्रदेश को एक और तोहफा दे दिया है। केंद्र सरकार ने प्रदेश के जिला सोलन के...

आईजीएमसी में 27 और 28 सितंबर को बाधित रहेगी स्कैन सेवा

शिमला,24 सितंबर:  आईजीएमसी प्रशासन ने अस्पताल सीटी स्कैन करवाने के लिए आने वाले मरीजों के लिए सूचना जारी की है जिसमें प्रशासन ने मरीजों...

ग्रामीण विकास में जिला परिषद की भूमिका महत्वपूर्ण: विधानसभा उपाध्यक्ष

चंबा, 24 सितंबर:  जिला परिषद की बैठक में आज विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ.हंसराज ने कहा है कि ग्रामीण विकास में जिला परिषद की महत्वपूर्ण भूमिका...

Recent Comments

× How can I help you?