Sunday, July 3, 2022
Home कॉन्फ्रेंस कोविड मृतकों के परिवार वालों को दिए गए मुआवजों को सार्वजनिक करें...

कोविड मृतकों के परिवार वालों को दिए गए मुआवजों को सार्वजनिक करें सरकार: नेगी निगम भंडारी 

प्रेस वार्ता में नेगी ने की सभी राजनैतिक नेताओं को लेकर कोविड कमीशन बनाने और मृतकों को मुआवजा देने की मांग

शिमला,10 मई: डब्ल्यूएचओ के मुताबिक भारत में कोरोना से दुनिया में सबसे ज्यादा लोगों की जान गई है। डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों के अनुसार देश में 47,00,000 से अधिक लोगों की मृत्यु हुई है जो कि मोदी सरकार के दिए आंकड़ों से 10 गुना ज्यादा है।
प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष नेगी निगम भंडारी ने कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में पत्रकार वार्ता में  केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि मदद तो दूर की बात, मौत पर झूठ बोलने वाली सरकार देश ने पहली बार ही देखी है। भाजपा सरकार को जनता की नहीं बल्कि सिर्फ अपनी सत्ता की फिक्र है। यही कारण है कि भारत स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में पिछड़ रहा है। भाजपा सरकार स्वास्थ्य के क्षेत्र में सुधार करने में विफल रही है ।

 

नेगी निगम भंडारी ने कहा कि भाजपा सरकार के दौरान स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति बदतर हुई है। वर्ष 2020 में 72% मौतें अस्पताल के बाहर हुई हैं। उन्होंने ने कहा कि ये आंकड़ा भाजपा सरकार में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति को बयां करने के लिए काफी है। ऐसे समय में स्वास्थ्य देखभाल के कुप्रबंधन की भयावहता की कल्पना डराने वाली है जब लाखों मौतें का कोई रिकॉर्ड ही नहीं है। उन्होंने कहा की ऑक्सीजन के अभाव में लोगों की मृत्यु की सरकार ने कोई परवाह नहीं की। दंगों में लोग मारे गए तो उन्हें परवाह नहीं थी। जब लोग भूख से मरे तो उन्हें परवाह नहीं थी, क्या यही है अच्छे दिनों वाली सरकार? ‘अच्छे दिनों’ का सपना दिखाकर नागरिकों की बर्बादी वाले दिन दिखाए जा रहे हैं।
उन्होंने ने कहा कि कोरोना महामारी से 47 लाख लोगो की मौत हुई है, न की 4.8 लाख लोगो की जैसा की सरकार ने दावा किया था। इस परिस्थिति में जिन परिवारों ने अपनो को खोया है उनका सम्मान होना चाहिए और उन्हें 4 लाख रुपए का मुआवजा उनकी मदद के लिए उपलब्ध करवाया जाना चाहिए। डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट ने भारत सरकार के झूठ की सारी पोल खोल कर रख दी है, ये देश के लिए शर्म का विषय है कि केंद्र सरकार की नाकामियों के चलते वक्त रहते हम अपने देश के नागरिकों को नहीं बचा पाए। उन्होंने कहा कि सरकार का मृतकों के परिवार को मुआवजा देने का वायदा अभी तक जुमला साबित हुआ है।
उन्होंने कोविड कमिशन की तत्काल स्थापना किए  जाने की मांग करते हुए कहा कि इस कमीशन में सभी राजनैतिक दलों के सदस्यों को शामिल किया जाए। निगम भंडारी ने सभी मृतकों के परिवार वालों को दिए गए मुआवजों को सार्वजनिक करने की भी मांग की।  नेगी ने कहा कि केंद्र सरकार अपना फर्ज निभाए और हर पीड़ित परिवार को 4 लाख का मुआवजा उनकी मदद के लिए उपलब्ध करवाए।
इस प्रेस वार्ता में प्रदेश युवा कांग्रेस मीडिया विभाग की वाईस चैयरमैन शुबरा जिंटा, प्रदेश प्रवक्ता हेमंत शर्मा व प्रदेश संयोजक एलोब चौहान भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वर्तमान सरकार की उपेक्षा के कारण पिछड़ा क्षेत्र: प्रतिभा सिंह

केलांग,1जुलाई: कांग्रेस अध्यक्ष सांसद प्रतिभा सिंह ने लाहौल-स्पिति के लोगों को आश्वासन दिया है कि वह उनके ए आर ऐ,फारेस्ट राइट एक्ट के हक...

Recent Comments

× How can I help you?