Sunday, July 3, 2022
Home खास गरीबों के मसीहा आउट ऑफ कंट्रोल,गरीबों पर कर रहे जुल्म: मनोज जिश्टु

गरीबों के मसीहा आउट ऑफ कंट्रोल,गरीबों पर कर रहे जुल्म: मनोज जिश्टु

माकपा कार्यकर्ता द्वारा नेपाली मजदूर के साथ मारपीट मामले पर भाजपा ने घेरे विधायक राकेश सिंघा पूछा: कहां हैं अब गायब,पत्रकार वार्ता में प्रशासन से की पीड़ित को न्याय दिलाने की मांग

शिमला,16 मई:  हिमाचल में ठियोग ही एक मात्र ऐसा विधानसभा क्षेत्र है जहां कम्युनिस्ट पार्टी जीती हैै। इसी ठियोग के संधू में माकपा कार्यकर्ता द्वारा एक नेपाली मूल के निवासी के घर मे जाकर मारपीट करने का वीडियो सामने आया है। वीडियो में कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ता नेपाली मजदूर के साथ मारपीट करते हुए साफ नजर आ रहे हैं।

इस मामले पर सोमवार को ठियोग में एक प्रेस वार्ता के दौरान जिला प्रवक्ता मनोज जिश्टु ने माकपा कार्यकर्ता द्वारा नेपाली मजदूर को पीटने के मामले पर राकेश सिंघा और उनकी पार्टी को आड़े हाथों लिया। मनोज जिश्टु के कहा कि दबे कुचले मजदूरों की आवाज और गरीबों की लड़ाई लड़ने वाली कम्युनिस्ट पार्टी के लोग इन दिनों उन्हीं दबे कुचले लोगों को अपने जुल्मों का शिकार बनाने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता द्वारा मारपीट के इस ताजे मामले में स्पष्ट जाहिर होता है कि किस प्रकार सीपीआईएम कार्यकर्ता अपनी दबंगई से मजदूरों की आवाज को दबाने के साथ-साथ उनको कुचलने का काम कर रहे हैं।

बताते हैं गरीबों का मसीहा पर हरकतें गुंडों से नहीं कम:

जिश्टु ने कहा कि जिस तरीके से धारदार हथियार से गरीब मजदूर वर्ग को यह डराने और धमकाने का काम कर रहे हैं उससे हिमाचल की शांत वादियों में अशांति का जहर घोलते हुए दिखाई देते हैं। इलाके के विकास को तो यह लोग धक्का पहुंचा ही रहे हैं साथ ही यहां के शांत वातावरण को अशांत करने का भी काम कर रहे हैं। नारेबाजी और दबंगई से सिर्फ यह खुद को जनता का मसीहा बताने की कोशिश करते हैं लेकिन हकीकत में इनकी हरकतें किसी गुंडे मवाली से कम दिखाई नहीं दे रही है। इस तरह की हरकतें कर सीपीआईएम के कार्यकर्ता लोगों के मन में डर और भय पैदा कर रहे हैं जोकि किसी भी तरह से सही नहीं ठहराया जा सकता। इनकी यह हरकतें जो बताती है कि इनके हौसले इतने बुलंद हैं कि यह किसी भी गरीब और मजदूर को अपनी ताकत के दम पर डरा धमका कर उनकी आवाज को दबाने की कोशिश करते हैं।

अब कहां गायब है गरीबों के मसीहा?
मनोज जिश्टु ने ठियोग के विधायक राकेश सिंघा को घेरते हुए कहा कि गरीबों के मसीहा अब कहां गायब हो गए हैं? माकपा कार्यकर्ता की इस हरकत से साफ झलकता है कि यह किस तरह से शोषित और पिछड़े वर्ग के लोगों को अपने मोहपाश में फंसाते हैं और फिर उसी वर्ग को अपनी ताकत का रौब दिखाकर डराते हैं। जिस तरह की हरकत सीपीआईएम के कार्यकर्ताओं ने की है इस बात का जवाब इनके नेता और विधायक राकेश सिंघा को सार्वजनिक तौर पर देना चाहिए और इनकी कृतियों के लिए लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

धरनों और प्रदर्शनों से नहीं होता विकास:
उन्होंने कहा कि माकपा केवल विकास की बात करती है लेकिन नारेबाजी व धरनों में के अलावा कुछ नहीं करती अगर सिर्फ नारेबाजी और धरना प्रदर्शन से। विकास हो सकता तो कब का हो चुका होता। उन्होंने कहा कि सीपीआईएम की एक टोली राकेश सिंघा साहब के नेतृत्व में सिर्फ उपद्रव और लोगों के बीच में पदा करने का काम कर रही है। इनको इलाके की विकास हो तरक्की से कोई लेना देना नहीं है। जो लोग बस इतना जानते हैं कि जहां भी मर्जी हो वहां दबंगई दिखाएं और नारेबाजी कर अपनी बात को मनवाएं। ऐसी मानसिकता के लोगों को यहां की जनता करारा जवाब देगी और आने वाले समय में इनकी इन हरकतों की वजह से इनको इलाके से बाहर जनता खुद करेगी। उन्होंने कहा कि माकपा के कार्यकर्ता कानून व्यवस्था को भी अपने हाथों में लेने से गुरेज नहीं कर रहे हैं। जनता को खुद जागरूक होना होगा और इस तरह के लोगों को मुंह तोड़ जवाब भी देना होगा।

जल्द हो कार्यवाही:

मनोज जिश्टु ने इस मामले पर कार्यवाही करने की मांग करते हुए कहा कि अगर जल्द कार्यवाही न हुई तो ठियोग में भाजपा राकेश सिंघा के खिलाफ एक बड़ा आंदोलन करेगी। साथ ही विधायक का घेराव भी होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वर्तमान सरकार की उपेक्षा के कारण पिछड़ा क्षेत्र: प्रतिभा सिंह

केलांग,1जुलाई: कांग्रेस अध्यक्ष सांसद प्रतिभा सिंह ने लाहौल-स्पिति के लोगों को आश्वासन दिया है कि वह उनके ए आर ऐ,फारेस्ट राइट एक्ट के हक...

Recent Comments

× How can I help you?