Tuesday, April 16, 2024
Homeहिमाचल प्रदेशजनता पर महंगाई का अतिरिक्त बोझ डाल सरकार निकाल रही अपने ऐशो...

जनता पर महंगाई का अतिरिक्त बोझ डाल सरकार निकाल रही अपने ऐशो आराम का खर्च: कर्ण नंदा

महंगाई को लेकर बीजेपी मिडिया प्रभारी कर्ण नंदा ने कांग्रेस सरकार को घेरा

कांग्रेस राज नहीं महंगाई राज चल रहा है ..

कांग्रेस राज में केवल महंगाई महंगाई और महंगाई का बोल बाला..।

शिमला,18 दिसंबर:  भाजपा मीडिया प्रभारी एवं मीडिया विभाग के संयोजक कर्ण नंदा ने कांग्रेस सरकार को घेरते हुए कहा की कांग्रेस राज में केवल महंगाई महंगाई और महंगाई का बोल बाला है। जब से वर्तमान सरकार सत्ता में आई है तब से केवल मात्र जनता की जेबों पर ढाका डालने का कार्य किया है। जनता की जेब पर  अत्यधिक बोझ डालना कांग्रेस के नेताओं की पुरानी पद्धति है। प्रदेश में डीजल, दाल , तेल, स्टांप पेपर, रजिस्ट्री फीस, टैक्सी पर टैक्स सब महंगा हो रहा है। ऐसा प्रतीत होता है की कांग्रेस राज नहीं महंगाई राज चल रहा है।

उन्होंने कहा कि केवल मात्र भोली भाली जनता के ऊपर बोझ डालकर यह सरकार अपने ऐश और आराम के खर्चे निकालने का प्रयास कर रही है। जब से सत्ता में आई है तब से केवल मात्र पैसों का रोना इस सरकार ने गया है, पर इसका मतलब यह तो नहीं की जनता पर भोज डालकर इस पैसे को पूरा करना चाहिए।

नंदा ने कहा की सूबे के एपीएल राशनकार्ड धारकों को बड़ा झटका लगा है। डिपुओं के माध्यम से दी जाने वाली चीनी के दाम तीन रुपये बढ़ा दिए गए हैं। पहले जहां इस श्रेणी के उपभोक्ताओं को तीस रुपये किलो के हिसाब से चीनी मिलती थी, अब प्रति किलोग्राम चीनी के दाम 33 रुपये निर्धारित किए गए हैं। इससे प्रदेश के करीब 12 लाख राशन कार्ड उपभोक्ताओं को चीनी के नए दाम चुकाने होंगे। आम जनता के जीवन से मिठास छीनना कांग्रेस की पुरानी आदत है। इस माह अभी तक चीनी का कोटा डिपुओं में पहुंचा नहीं है। यह भी दिखता है कि कांग्रेस की सरकार कितनी अव्यवस्था के दौर से गुजर रही है। जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश में राशन कार्ड धारकों की संख्या करीब 20 लाख है। प्रदेश सरकार इन उपभोक्ताओं को 5,222 उचित मूल्य की दुकानों के जरिये सस्ता राशन मुहैया करा रही है। प्रदेश में एपीएल कार्ड धारकों की संख्या करीब 12 लाख है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

× How can I help you?