Saturday, May 18, 2024
Homeखासगुरू बदल रहे स्थान, कहीं धूप तो कहीं रहेगी छांव:पं.शशि पाल डोगरा

गुरू बदल रहे स्थान, कहीं धूप तो कहीं रहेगी छांव:पं.शशि पाल डोगरा

नहीं थमेगा कोरोना का कहर, गुरु करवाएंगे सत्ता परिवर्तन और जनता में बनाएंगे रोष का माहौल

शिमला: ज्योतिष शास्त्र में देव गुरु बृहस्पति के गोचर को महत्वपूर्ण माना जाता है। गुरु में हलचल से सभी राशियां प्रभावित होती हैं। गुरु अप्रैल माह में अपना घर बदलने वाले हैं। गुरु कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे जिस कारण सभी राशियों की स्तिथि भी बदलेगी। गुरू ग्रह की चाल बदलने से कई राशि वालों को तरक्की तो कई राशि वालों को उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा। यही नहीं, गुरु का कुंभ राशि में प्रवेश राजनैतिक उथलपुथल के भी सकेंत दे रहा है। इससे
कहीं सत्ता परिवर्तन, तो कहीं जनता में रोष पैदा होने की स्तिथियां बन रही हैं।
गुरु का कुंभ राशि में  प्रवेश:
वशिष्ठ ज्योतिष सदन के अध्यक्ष व अंक ज्योतिषाचार्य पंडित शशि पाल डोगरा के मुताबिक देव गुरु बृहस्पति 5 अप्रैल 2021 की मध्यरात्रि  12 बजकर 23 मिनट पर अपनी नीच राशि मकर से कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। इस राशि पर 13 सितंबर तक रहने के बाद वक्री अवस्था में फिर से मकर राशि में गोचर करेंगे, जहां वह 20 नवंबर 2021 तक रहेंगे। इसके बाद  गुरु मार्गी अवस्था में कुंभ राशि में गोचर करेंगे। उनका कहना है कि गुरु का कुंभ राशि में प्रवेश कहीं सत्ता परिवर्तन, तो कहीं जनता में रोष पैदा करवाएगा। इस दौरान सत्ता में बैठी सरकारों के लिए कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा।
बढ़ेगी मुश्किलें:
पं.डोगरा की गणना के अनुसार गुरु का कुंभ राशि में संचार करने से वर्षा की कमी अनुभव होगी। बेमौसमी वर्षा, आंधी तूफान आने से खड़ी फसलों को हानि होगी और कुछ इलाकों में अकाल जैसी परिस्थितियां बनेगी। यही नहीं, कोरोना वायरस अभी रुकने का नाम नहीं लेगा। गुरु के शनि के घर में जाने से बीमारी आदि व्याधि भी बढ़ेगी।
राशियों पर गुरु का प्रभाव:
बाहर राशियों पर गुरु का प्रभाव
आइए अब जानते हैं कि देव गुरु बृहस्पति का किन-किन राशियों के जीवन पर क्या असर रहेगा। पं. डोगरा के मुताबिक…
1.मेष- छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त हो सकती है। नव विवाहितों को संतान प्राप्ति का योग बन सकता है। धार्मिक कार्यों में शामिल होंगे।
2.वृषभ- नौकरी में तरक्की संभव है। बिजनेस में लाभ हो सकता है। जमीन-जायदाद से जुड़े मामलों का निपटारा हो सकता है। मान-सम्मान में वृद्धि होगी।
3.मिथुन- भाई-बहनों में विवाद हो सकता है। धर्म-कर्म के कार्यों में रूचि बढ़ेगी। आय के साधन बढ़ेंगे। विदेश यात्रा का योग बन सकता है।
4.कर्क- सेहत के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है। बिजनेस संबंधी मामलों में सफलता हासिल हो सकती है। आकस्मिक धन लाभ के योग बन सकते हैं। नौकरी में तरक्की मिल सकती है।
5.सिंह- मांगलिक कार्यों का योग बनेगा। शादी-विवाह तय हो सकता है। उच्चाधिकारियों का सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य के प्रति सजक रहने की आवश्यकता है।
6.कन्या- गुप्त शत्रुओं से बचकर रहें। मानसिक तनाव का शिकार हो सकते हैं। धन खर्च हो सकता है। विदेशी कंपनियों में नौकरी के लिए आवेदन करना सफल रहेगा।
7.तुला- हर तरह के कार्यों में सफलता हासिल होगी। प्रेम-प्रसंग की शुरुआत हो सकती है। आय के कई साधन बनेंगे। संतान संबंधी परेशानियों से मुक्ति मिल सकती है।
8.वृश्चिक- मानसिक तनाव का शिकार हो सकते हैं। पैतृक संपत्ति का लाभ मिलेगा। भौतिक सुख मिलेगा। वाहन खरीदने का योग बन सकता है। नौकरी में प्रमोशन व स्थान परिवर्तन संभव है।
9.धनु- धनु राशि वालों का आत्मविश्वास बढ़ेगा। छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त हो सकती है। धर्म व अध्यात्म में रूचि बढ़ेगी।
10.मकर- आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। कोई महंगी चीज खरीद सकते हैं। जमीन-जायदाद संबंधी मामलों का निपटारा हो सकता है। सेहत पर ध्यान दें।
11.कुंभ- संतान संबंधी चिंता दूर हो सकती है। समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा। शादी-विवाह और व्यापार के क्षेत्र में आ रही बाधाएं दूर होंगी। अपनी प्लानिंग को गोपनीय रखें।
12.मीन- अनावश्यक धन खर्च हो सकता है। गुरु गोचर के दौरान मानसिक तनाव व उलझनें बढ़ सकती हैं। सेहत के प्रति चिंतनशील रहें। कोर्ट-कचहरी के मामले बाहर सुझलाना बेहतर होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

× How can I help you?